भारतीय महिलाओं का आंदोलन और प्रकाशन

उर्वशी बुटालिया भारत की सबसे पहले नारीवादी (फेमिनिस्ट) प्रकाशकों में से एक है- इन्हे ४० साल से भी ज्यादा प्रकाशन का अनुभव है. 1984 में ऋतू मेनोन क साथ मिलकर ‘काली फॉर वीमेन’ की सह-संस्थापना की.

More